गूगल ने ली जिम्मेदारी, कहा गलती हुई

0
45

 

नई दिल्ली –

 

बीते दिन लोगों को एक नई परेशानी का सामना करना पड़ा. लोगों के मोबाइल फोन में आधार हेल्पलाइन नंबर अपने आप से सेव होने लगा जिसको लेकर सोशल मीडिया से लेकर चारों ओर इस बात पर चर्ची होने लगी और लोगों को प्राइवेशी का खतरा सताने लगा.

 

लोगों को लगने लगा की कहीं उनका फोन हैक तो नहीं हो गया. फोन में आधार हेल्पलाइन नंबर अपने आप सेव होने की जानकारी तब सामने आई जब ट्विटर पर कई लोगों ने आधार हेल्पलाइन नंबर के उनके फोन के कान्टेक्ट लिस्ट में अपने आप सेव हो जाने की बात सोशल मीडिया ट्विटर और फेसबुक के जरिए शेयर की. इसके बाद चारों और इस बात की चर्चा शूरू हो गई की कहीं उनका फोन हैक तो नहीं हो गया. इस  बात की चर्ची दिन भर होती रही. वहीं अब इस विवाद के बीच एंड्रायड ऑपरेटिंग सिस्टम बनाने वाली कंपनी गूगल ने माफी मांगी है. गूगल के द्वारा कहा गया कि अनजाने में नंबर जरूर सेव हुआ है लेकिन एंड्रायड सिस्टम हैक नहीं हुआ है.

 

ये भी पढ़े : दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा : नीतीश कुमार 

 

इसके अलावा आधार की संस्था यूआईडीएआई (UIDAI) और टेलकॉम एसोसिएशन सीओएआई ने इस विवाद में साफ किया की उनके द्वारा लोगों के फोन में नंबर सेव नहीं किया गया है. इसेक  बाद एक अलग बहस छिड़ गई की क्या फोन यूजर्स के उपर किसी तरह का साइबर अटैक किया जा रहा है. लोगों को लगने लगा की कहीं उनकी प्राइवेसी खतरे में तो नहीं. लेकिन अब गूगल ने इन सब चिजों पर जानकारी देते हुए इसकी जिम्मेदारी ली है. गूगल की और से कहा गया कि साल 2014 में ही यूआईडीएआई (UIDAI) और इसके अलावा 112 हेल्पलाइन नंबरों को एंड्रायड के सेटअप विजार्ट में  कोड कर दिए गए थे.

 

ये भी पढ़े : भाजपा ने वीडियो जारी कर ममता बनर्जी पर साधा निशाना

 

वहीं गूगल ने ये भी कहा कि ये नंबर अगर एक बार अगर यूजर के कॉन्टेक्ट लिस्ट में आ जाए तो ये नंबर डिवाइस बदलने के बाद भी अपने आप नए डिवाइस में भी आ जाते है. वहीं गूगल ने इस पूरे मामलें को लेकर लोगों को हुई परेशानी के लिए खेद जताया और लोगो को आश्वस्त किया की एंड्रॉयड फोन में किसी भी प्रकार का अन ऑथराइज्ड एक्सेस नहीं हे और साथ में ये भी कहा की इस प्रकार कोई भी डिवाइस हैक नहीं हुआ है.

 

 

वहीं गूगल ने जानकारी दी की लोग मैनुअली इस नंबर को डिलीट कर सकते है. वहीं गूगल ने ये भी जानकारी दी की वे आने वाले एंड्रॉयड सेटएप विजार्ट से इसे हटाने पर काम करेंगे. अब जैसा की गूगल ने बीते दिन आधार हेल्पलाइन नंबर के अपने आप सेव हो जाने को लेकर सबकुछ साफ कर दिया है तो लोग भी अब आश्वस्त नजर आ रहे है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here