आरबीआई ने फिर बढ़ाया रेपो रेट

0
35

नई दिल्ली –

 

अगर आप भी किसी बैंक से लोन लेने की तैयारी कर रहे है तो ये खबर आपके लिए महत्वपूर्ण है क्योकि बैंको से लोन लेना अब और महंगा होने वाला है. ताजा जानकारी के अनुसार रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के एमपीसी विभाग (मौद्रिक नीति सीमति) ने रेपो रेट को बढ़ाने का फैसला किया है. बताया जा रहा है कि रेपो रेट में 0.25 की वृद्धि का फैसला किया गया है. 0.25 की वृद्धि के साथ अब रेपो रेट बढ़कर 6.50 परसेंट हो गया है. इसके साथ ही बैंके से लिया जाने वाला लोन महंगा हो जाएगा और साथ ही इमआई में भी बढ़ोतरी हो जाएगी.

 

ये भी पढ़े : जियो फोन पर मिलेगी फेसबुक, वॉट्सऐप और यूट्यूब की सुविधा

 

वहीं अर्थशास्त्र के जानकार आरबीआई के इस कदम से सीधा आम लोगो की जेबों पर असर होने की बात को कर रहे है. जानकारी मिल रही है कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के  गवर्नर ने उर्जित पटेल की अध्यक्षता में 6 सदस्यीय एमपीसी विभाग (मौद्रिक नीति सीमति) की तीन दिनों से चल रही बैठक बुधवार को खत्म हो गई है. आरबीआई के इस कदम से बैंको से लोन लेना महंगा हो जाएगा.

 

जून के महीनें भी बढ़ा था रेपो रेट

बात अगर इससे पहले आरबीआई द्वारा रेपो रेट को बढ़ाने की बात की करे तो इससे पहले भी जून के महीनें में रेप रेट में वृद्धि की गई थी. उस समय भी रेपे रेट में 0.25 की वृद्धि की गई थी. उस समय रेपो रेट बढ़कर 6.25 हो गया था . अब जैसा कि आऱबीआई के  एमपीसी विभाग (मौद्रिक नीति सीमति) द्वारा फिर से रेपो रेट में बढ़ोतरी की गई है तो इसको लेकर विशेषयज्ञ भी अपनी- अपनी राय रख रहै है.

 

 

बात अगर विशेषज्ञों की करे तो उनका कहना है कि एमएसपी  (न्यूनतम समर्थन मूल्य)  में वृद्दि से सरकार के मुद्रास्फ्रीति का दबाब बढ़ सकता है. साथ ही विशेषज्ञों का ये भी कहना है कि मुद्रास्फ्रीति के कारण आज कच्चे तेलों की कीमतें में अभी तक की सबसे अधिक वृद्धि देखने को मिली है और कच्चे तेलों के दाम आज आसमान छू रहे है. अब जब आरबीआई द्वारा जब फिर से रेपो रेट को बढ़ाया गया है तो इसका जैसा भी परिणाम होगा इसका पता तो आने वाले दिनों में ही देखने को मिलेगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here